in ,

गुरुपूनम की रात सुहानी लिरिक्स | Guru Poonam Ki Raat Suhani Lyrics

हम आपको दादाजी का एक फेमस भजन सुनाने वाले हे जिसके बोल हैं गुरुपूनम की रात सुहानी (Guru Poonam Ki Raat Suhani) भजन अच्छा लगे तो शेयर करें।

Guru Poonam Ki Raat Suhani Lyrics

मेरी फरियाद है दादाजी धुनिवाले से
हमें भी तार देना अपनी मेहरबानी से

गुरु पुनम की रात सुहानी
मधुर मिलन की बेला है,
खंडवा जिले में दादाजी का
कितना प्यारा मेला है।

कितना प्यारा प्यारा नजारा
दादाजी के मंदिर का
किस्मत वाले…है वो भक्त
जिसको दर्शन मिला है
गुरुपुनम की रात सुहानी
मधुर मिलन की बेला है।

महिमा न्यारी दादाजी की
वो तो बड़े चमत्कारी है
खुशियों से वो …दामन भरते
ऐसे दादा निराले है
गुरुपुनम की रात सुहानी
मधुर मिलन की बेला है

सारी दुनिया के रखवाले
शिव अवतारी धुनिवाले
तिन लोक में … नाम है उनका
कहते उन्हें डंडे वाले है
गुरुपुनम की रात सुहानी
मधुर मिलन की बेला है

चरण कमल में शीश झुकालो
अपने गुरु को दिल में बसालो
सब भक्तो की …बिगड़ी बनाये
खोले नसीबो का ताला है
गुरुपुनम की रात सुहानी
मधुर मिलन की बेला है

बहुत ही प्यारा दादाजी का भजन हे, शेयर जरूर करें।

Written by admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

भजलो दादाजी का नाम भजलो हरिहरजी का नाम लिरिक्स | Bhajlo Dadaji Ka Naam Bhajlo Harihar Ji Ka Naam Lyrics

दादाजी मंदिर के सेवादारी की मिली खून से सनी लाश